भाजपा द्वारा अपने कार्यकताओं को मतगणना दिवस पर अशांति फैलाकर मतगणना प्रभावित करने के लिए उकसाने की कांग्रेस ने की चुनाव आयोग से शिकायत

मतगणना दिवस 3 दिसम्बर को मतगणना स्थलों पर विशेष पुलिस व्यवस्था तैनात करने की मांग

भोपाल – प्रदेश कांग्रेस के एक प्रतिनिधि मंडल ने शुक्रवार को प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय पहुंचकर निर्वाचन आयोग को एक वीडियो एवं ज्ञापन सौंपते हुए बताया है कि हार के डर से घबड़ाकर भाजपा कार्यालय में भाजपा के नेताओं द्वारा मीटिंग आयोजित कर भाजपा कार्यकर्ताओं को मतगणना स्थल पर बवण्डर (हंगामा) खड़ा कर मतगणना कार्य में बाधा पहुंचाकर अशांति फैलाने के कार्य को मूर्तरूप देने का कार्य किये जाने हेतु उकसाया जा रहा है, जिससे आगामी 3 दिसम्बर को होने वाली विधानसभा चुनाव की मतगणना के दौरान अराजकता की स्थिति निर्मित हो सकती है।
कांग्रेस नेताओं प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्षगण सर्वश्री राजीव सिंह, प्रकाश जैन और जे.पी. धनोपिया द्वारा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी अनुपम राजन से भेंट कर गंभीर विषय पर चिंता व्यक्त करते हुये ज्ञापन सौंपकर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने की मांग की है। जिससे कि हार के डर से बौखलाई भाजपा मतगणना में व्यवधान पैदाकर अराजकता न फैला सके एवं मतगणना शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो सके।
कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने निर्वाचन आयोग से कहा कि मतगणना दिवस पर सभी जिला मुख्यालयों पर आयोजित मतगणना कार्य में किसी भी तरह के बवण्डर (हंगामा) खड़ा किए जाने की भाजपा की सुनियोजित योजना को रोकने के लिए आवश्यक प्रशासनिक स्तर पर पुलिस व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त करने के उद्देश्य से केन्द्रीय रिजर्व बल तैनात किए जाने की व्यवस्था किया जाना उचित होगा, ताकि विधानसभा चुनाव की मतगणना का कार्य निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सके ताकि जनता द्वारा किये गये मतदान के मताधिकारी का स्पष्ट परिणाम जनता के बीच सामने आये।